भारत में एक बार फिर से 47 चीनी ऐप्स बैन करने का फैसला किया है. दरअसल ये ऐप्स कुछ समय पहले बैन किए गए ऐप्स के क्लोन के तौर पर काम कर रहे थे. सरकार ने इससे पहले 59 ऐप्स बैन किए हैं जिनमें कई पॉपुलर ऐप्स शामिल हैं.

इनमें टिक टॉक, वी चैट से लेकर अली बाबा के ऐप्स यूसी न्यूज और यूसी ब्राउजर शामिल हैं. सरकार के सूत्रों के मुताबिक 250 ऐसे चीनी ऐप्स हैं जिन्हें नेशनल सिक्योरिटी के वॉयलेशन को लेकर जांच की जा सकती है.

सूत्रों के मुताबिक चीनी ऐप्स की नई लिस्ट तैयार की जा रही है और इसमें कुछ टॉप गेमिंग ऐप्स भी शामिल हैं. मुमकिन है अगली लिस्ट आने के बाद भारत में कई पॉपुलर चीनी गेम्स भी बैन किए जा सकते हैं.

रिपोर्ट के मुताबिक़ इस बार 200 से ज़्यादा ऐप्स की लिस्ट बनाई जा रही है जिनमें पबजी और अली एक्सप्रेस जैसे पॉपुलर ऐप्स हैं. भारत में इन ऐप्स के करोड़ों यूज़र्स हैं.

रिपोर्ट के मुताबिक ये ऐप्स चीन के साथ कथित तौर पर डेटा शेयर कर रहे हैं और इस वजह से सरकारी एजेंसियां इनका रिव्यू कर रही हैं. फिलहाल सरकार की तरफ से नए ऐप्स बैन को लेकर कोई स्टेटमेंट जारी नहीं किया गया है.

अब सवाल ये है कि क्या पबजी को भी इस बार बैन कर दिया जाएगा? क्योंकि पबजी के भी कई कनेक्शन चीन से जुड़े हैं, हालांकि ये ऐप पूरी तरह चीनी नहीं कहा जा सकता है।


Notice: ob_end_flush(): failed to send buffer of zlib output compression (0) in /home/newswebp/theblat.in/wp-includes/functions.php on line 4673