लखनऊ। यूपी में कोरोना काल चल रहा है। रोजगार का भारी संकट है। लोगों को रोटी के लाले पड़ गए हैं। कानून व्यवस्था और बेरोजगारी पर सरकार की खिंचाई करते हुए समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहाकि बनारस में एक बुनकर की आत्महत्या का समाचार हृदयविदारक है। वहीं गोंडा में बच्चे के अपहरण के बाद अखिलेश यादव ने कहाकि भाजपा सरकार अगर उप्र के बच्चों की रक्षा नहीं कर सकती है तो उसे सत्ता में बने रहने का कोई अधिकार नहीं। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ट्विट में लिखा कि गोण्डा पुलिस की त्वरित कार्रवाई से अपहृत बच्चे की सकुशल वापसी सराहनीय है। बच्चे के परिवार ने अब जाकर राहत की सांस ली होगी। भाजपा सरकार स्पष्ट करे कि कानपुर में अपहृत युवक की हत्या के बाद उसकी लाश क्यों नहीं मिली। वहाँ ‘कौनÓ पुलिस को सार्थक कदम उठाने से रोक रहा है? इससे पूर्व इसी मुद्दे पर अखिलेश अपने ट्विट पर लिखा कि कानपुर के बाद अब गोण्डा में एक व्यापारी के बच्चे के अपहरण की खबर से उप्र की जनता में घोर आक्रोश फैल गया है। भाजपा सरकार अगर उप्र के बच्चों की रक्षा नहीं कर सकती है तो उसे सत्ता में बने रहने का कोई अधिकार नहीं। लगता है अपराधियों ने एनकाउंटर वाली सरकार का ही एनकाउंटर कर दिया है। बनारस में बुनकर की आत्महत्या पर अखिलेश यादव ने ट्विट लिखा कि बनारस में एक बुनकर की आत्महत्या का समाचार हृदयविदारक है। भाजपा सरकार की कुनीतियों-अनीतियों के कारण आज बुनकर व किसान ही नहीं बल्कि व्यापारी व कोरोनाकाल में प्रदेश में वापस आए लोग भी ऐसे आत्मघाती कदम उठाने के लिए मजबूर हो रहे हैं। भाजपा की हृदयहीनता जनता के लिए बेहद घातक है।


Notice: ob_end_flush(): failed to send buffer of zlib output compression (0) in /home/newswebp/theblat.in/wp-includes/functions.php on line 4673