सीयूईटी परीक्षा : परीक्षा देने आए उम्मीदवारों ने लगाया तकनीकी गड़बड़ियों का आरोप

 

द ब्लाट न्यूज़ । स्नातक पाठ्यक्रमों के लिए सामान्य विश्वविद्यालय प्रवेश परीक्षा (सीयूईटी) के दूसरे चरण का पहला दिन विभिन्न कारणों से प्रभावित रहा।

परीक्षा देने आए कईं उम्मीदवारों ने दावा किया कि उन्हें तकनीकी खामियों का सामना करना पड़ा, जबकि कुछ अभ्यर्थियों ने आरोप लगाया कि उनकी परीक्षा स्थगित कर दी गयी थी।

कईं परीक्षार्थियों ने आरोप लगाया कि परीक्षा के दौरान इंटरनेट की गति धीमी हो गयी, जबकि कुछ अभ्यर्थियों ने सोशल मीडिया पर परीक्षा केंद्रों के बाहर राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी (एनटीए) का कथित नोटिस पोस्ट किया, जिसमें लिखा था ”इस केंद्र पर निर्धारित सीयूईटी परीक्षा आज स्थगित कर दी गई है। अगली परीक्षा 12 अगस्त को आयोजित होगी।”

एक उम्मीदवार ने एक ट्वीट में आरोप लगाया, ”मैंने और मेरे पिता ने परीक्षा केंद्र तक पहुंचने के लिए 300 किलोमीटर की यात्रा तय की है। लेकिन यहां पहुंचने के बाद अधिकारियों ने कहा कि तकनीकी समस्याओं के कारण परीक्षा रद्द कर दी गई है। यह कैसा मजाक है?”

उम्मीदवारों का दावा था कि उन्हें परीक्षा स्थगित होने की कोई पूर्व सूचना नहीं मिली थी।

एक अन्य ट्वीट में एक अभ्यर्थी ने लिखा, ”एनटीए परीक्षा केंद्र नोएडा, सेक्टर-64 में बृहस्पतिवार को होने वाली सीयूईटी परीक्षा को 12 अगस्त तक के लिए स्थगित कर दिया गया है। हमें पहले से कोई जानकारी नहीं मिली। क्या हमारे पास बर्बाद करने के लिए बहुत समय है?”

बहुत सारे उम्मीदवार अभी भी कथित नोटिस को लेकर आशंकित हैं।

धीरज कुमार ने ट्विटर पर लिखा, ”नोएडा-64 में एनटीए के परीक्षा केंद्र तीन में चार अगस्त को स्लॉट-एक में होने वाली सीयूईटी की परीक्षा रद्द कर दी गई है और इसे 12 अगस्त को पुनर्निर्धारित किया गया है। कृपया एनटीए मुझे पुनर्निर्धारित परीक्षा के लिए प्रवेश पत्र और केंद्र की स्पष्ट जानकारी प्रदान करें।”

इस भ्रम के अलावा, कई उम्मीदवारों को परीक्षा के दौरान तकनीकी गड़बड़ियों का सामना करना पड़ा।

एक ट्विटर उपयोगकर्ता ने आरोप लगाया, ”कुछ कंप्यूटर में परीक्षा शुरू नहीं हो रही थी, जिस कारण परीक्षार्थी घंटों तक खाली बैठे रहे।”

सीयूईटी (यूजी) परीक्षार्थी आर्यम शर्मा ने दावा किया, ”मेरी सीयूईटी परीक्षा बृहस्पतिवार सुबह नौ बजे निर्धारित की गई थी। मैं केवल अंग्रेजी के हिस्से के लिए उपस्थित हो पाया, अगले तीन हिस्सों के लिए मेरे केंद्र में बैठे सभी उम्मीदवार सर्वर की समस्या के कारण परीक्षा में शामिल नहीं हो पाए। एनटीए कृपया मामले पर संज्ञान लें।”

सीयूईटी (यूजी) का पहला चरण 15 जुलाई से 20 जुलाई के बीच आयोजित किया गया था।

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) के प्रमुख जगदीश कुमार ने मार्च में घोषणा की थी कि 45 केंद्रीय विश्वविद्यालयों में प्रवेश के लिए 12वीं कक्षा के अंक नहीं बल्कि सीयूईटी परीक्षा के अंक न्यूनतम पात्रता मानदंड के आधार पर मान्य होंगे।

 

 

 

Check Also

सौतेले पिता ने क्रूरतापूर्वक बच्चे की पिटाई की, अस्पताल में भर्ती

  द ब्लाट न्यूज़ । केरल के त्रिशूर जिले में कुन्नमकुलम शहर के थुवनूर में …