अवैध निर्माण और प्लाटिंग को लेकर केडीए उपाध्याय ने अफसरों को दिए सख्त आदेश 

 

रिपोर्ट: ऋषभ तिवारी

कानपुर। अवैध निर्माण और प्लाटिंग को लेकर आज केडीए उपाध्याय राकेश सिंह ने अफसरों को सख्त आदेश दिए हैं कि हर हाल में अवैध निर्माणों पर अंकुश लगाए जाए। इसके तहत कानपुर विकास प्राधिकरण (केडीए) पहले चरण में शहर की चालीस इमारतों को चिह्नित कर रहा है। हर जोन से कुल दस-दस इमारतें है। इस हिसाब से चार जोनों में चालीस अवैध इमारतें करके कार्रवाई की जाएगी। मार्च से अभियान शुरू होने की संभावना है।

केडीए अभियंताओं की इन क्षेत्रों में मेहरबानी

कानपुर विकास प्राधिकरण (केडीए) के अभियंताओं की मेहरबानी से बिल्डरों और भूमाफिया ने अवैध इमारतें और प्लाटिंग कर दी है। सजारी, न्यू कानपुर सिटी, गणेश नगर, सनिगवां, श्यामनगर, जालपा नगर, कटरी समेत कई जगह भूमाफिया ने सरकारी जमीन पर कब्जा करके प्लाटिंग कर दी है। उनको बेच रहे है लेकिन अभियंताओं और तहसीलदारों को नजर नहीं आ रहा है। हालत यह है कि शहर में अवैध इमारतें खड़ी होती जा रही हैं। स्वरूप नगर, शास्त्रीनगर, गणेश नगर, जवाहर नगर, नेहरू नगर, कुली बाजार, खोया मंडी, रामकृष्ण नगर, रामबाग , चमनगंज, प्रेमनगर, बेकनगंज, पीरोड, जीटी रोड, गीतानगर, रावतपुर, सिविल लाइंस, काकादेव, सर्वोदय नगर, पनकी, श्यामनगर समेत कई जगह अवैध निर्माण हो रहे हैं। सड़क व फुटपाथ पर कब्जा कर लोग निर्माण कराते ही जा रहे हैं। पीरोड में लोगों ने गली तक घेर कर निर्माण बना लिया है। उपाध्यक्ष राकेश सिंह ने सभी चारों जोनों के प्रवर्तन प्रभारियों को अादेश दिए हैं कि अपने-अपने जोन में दस-दस अवैध निर्माणों को चिह्नित करके कार्रवाई करें। इसके लिए सूची तैयार की जा रही है। अभी अंतिम मुहर लगना बाकी है।

Check Also

परिवारवाद पर मोदी का कड़ा प्रहार, देशवासियों से सहयोग मांगा

  द ब्लाट न्यूज़ । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राजनीति में परिवारवाद पर कड़ा हमला …