दिल्ली सरकार को बाजारों में मुफ्त टीकाकरण कैम्प आयोजित करने चाहिए – प्रदेश कांग्रेस द्वारा सदर बाजार में दवाई व राशन के पैकेट बांटे : चौ0 अनिल कुमार

नई दिल्ली। दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि दिल्ली प्रदेश कांग्रेस दिल्ली की जनता को लम्बे लॉकडाउन से उत्पन्न आर्थिक समस्याओं से राहत पहुचाने व लॉकडाउन में छूट देने के लिए दिल्ली सरकार से लगातार मांग कर रहे थे लेकिन केजरीवाल ने बिना योजनाबद्ध तरीके से केवल मजबूरी में दिल्ली को अनलॉक करने की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी द्वारा छोटे व्यापारियों के लिए राहत पैकेज देने अपील करने के बावजूद दिल्ली सरकार ने राहत देने की कोई घोषणा नही की और अनलॉक की घोषणा में बाजारों को ऑड-इवन फार्मूले पर खोलने के लिए न कोई तैयारी की और न ही कोई दिशा निर्देश दिए है। चौ0 अनिल कुमार ने आज बल्लीमारान विधानसभा के ईदगाह रोड़ सदर बाजार में गरीब और जरुरतमंद लोगों को राशन किट तथा मेडिकल किट का वितरण किया। कार्यक्रम का आयोजन कसाबपुरा ब्लाक कांग्रेस कमेटी की ओर से किया। इस मौके पर प्रदेश अध्यक्ष चौ0 अनिल कुमार के साथ अ0भा0क0कमेटी के दिल्ली प्रभारी शक्तिसिन्ह गोहिल, दिल्ली सरकार के पूर्व मंत्री हारुन यूसूफ, जिला अध्यक्ष मौहम्मद उस्मान, निगम पार्षद सुलक्षण सिनन्दी, राजकुमार इंदौरिया, मौहम्मद फहीम, ब्लाक अध्यक्ष अब्दुल खालिद तथा योगेश जैन, फुरकान कुरेशी भी मौजूद थे।

इस अवसर पर चौ0 अनिल कुमार ने केजरीवाल सरकार से मांग की कि बाजारों में कैम्प लगाकर टीककारण किया जाए तथा अनलॉक की घोषणा के बाद संक्रमण को रोकने के लिए बड़े स्तर पर आर.टी.-पीसीआर टेस्ट बढ़ाने की जरुरत है, जबकि सरकार 50-55 हजार के बीच ही टेस्ट करा रही है जबकि उन्हें बढ़ाकर दुगने करने चाहिए तथा सही समय पर पहचान करके टेस्ट करे व संक्रमित होने पर इलाज सुनिश्चित किया जाना चाहिए। उन्होंने यह भी मांग की अनलॉक की स्थिति में लोगों को अपने कार्यस्थल तक सुविधाजनक तरीके से आने-जाने के लिए बसों की संख्या बढ़ाई जाए क्योंकि बसों की कम संख्या के कारण लोगों को घंटो इंतजार करना पड़ रहा है और ऐसे में संक्रमण का भी अधिक खतरा है।

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि अनलॉक प्रक्रिया से संक्रमण फैलने की अधिक संभावना होगी और संक्रमण रोकने एकमात्र उपाय वैक्सीन है इसलिए केजरीवाल को जल्द से जल्द वैक्सीन मुहैया कराना चाहिए, जबकि अरविन्द केजरीवाल वैक्सीनेशन के लिए केन्द्र सरकार की जिम्मेदारी कहकर अपना पल्ला झाड़ रहे है।

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि केजरीवाल सरकार अभी दूसरी लहर के अनुमान प्रतिदिन 37000 संभावित कोरोना मरीजों के अनुसार तैयारियों की व्यवस्था कर रहे है जबकि आई.आई.टी. एक्पर्ट की तीसरी लहर के संदेह पर 45000 कोरोना केस प्रतिदिन आने की बात कर रहे है जिस पर केजरीवाल सरकार की कोई तैयारियां नही है। वे लगातार खोखली बातें कर रहे है कि दिल्ली की स्वास्थ्य व्यवस्था तीसरी लहर के लिए पूरी तरह तैयार है। उनकी तैयारियों को दिल्लीवासी दूसरी लहर के बाद देख चुके है जिसमें पूरी स्वास्थ्य व्यवस्था चरमरा गई थी।

चौ0 अनिल कुमार ने विश्व पर्यावरण दिवस पर कहा कि दिल्ली विश्व की नम्बर 1 प्रदूषित राजधानी है। केजरीवाल सरकार की बड़ी-बड़ी घोषणाओं और करोड़ो रुपये खर्च करने के बावजूद दिल्ली में कभी भी प्रदूषण के खतरे का स्तर कम नही हुआ। केजरीवाल सरकार ने सार्वजनिक परिवहन प्रणाली में लगातार कम हो रही डीटीसी बसों के बेड़े में कोई बढ़ोत्तरी नही की। पिछले 6 साल में एक भी नई बस को डीटीसी बेड़े में नही जोड़ा गया है।

Check Also

त्रिलोकपुरी में युवक की चाकू से गोदकर हत्या

  द ब्लाट न्यूज़ । यमुनापार के त्रिलोकपुरी इलाके में सोमवार शाम को एक युवक …