मृत्यु प्रमाण पत्र में मृत्यु के कारण का काॅलम खाली, मुख्यमंत्री से शिकायत

मेरठ । कोराना काल में एलएलआरएम मेडिकल काॅलेज में इलाज के दौरान दम तोड़ने वाले लोगों के मृत्यु प्रमाण पत्र में मौत का कारण नहीं दिया जा रहा है। इससे परेशानी होने पर मृतकों के परिजन मृत्यु प्रमाण पत्र पर मौत का कारण दर्ज कराने के लिए मेडिकल काॅलेज के चक्कर लगा रहे हैं। मेरठ के सपा नेता ने इस संबंध में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से शिकायत की है।

कोरोना संक्रमण के कारण मेरठ जनपद में काफी संख्या में लोगों की मौत हुई है। पश्चिमी उत्तर प्रदेश के सबसे बड़े एलएलआरएम मेडिकल काॅलेज में कोरोना के कारण दम तोड़ने वाले मरीजों के परिजन चक्कर काट रहे हैं। मेडिकल काॅलेज द्वारा जारी मृत्यु प्रमाण पत्र में मौत के कारण का काॅलम खाली छोड़ा जा रहा है। इससे मृतकों के परिजनों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। अधूरे मृत्यु प्रमाण पत्र को ठीक कराने के लिए लोग मेडिकल काॅलेज के चक्कर काट रहे हैं, लेकिन उनकी परेशानी दूर नहीं की जा रही है।

सपा व्यापार सभा के जिलाध्यक्ष सौरभ अग्रवाल ने प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से पूरे मामले की शिकायत की है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के हर जनपद से शिकायत मिल रही है कि मृत्यु प्रमाण पत्र में मौत का कारण कुछ नहीं दिखाया जा रहा है। इस कारण लोगों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। ऐसे में प्रमाण पत्र में मृत्यु का कारण कोविड-19 अंकित न होने की वजह से उनके परिजन कोरोना से मरने वालों को मिलने वाली सुविधा से वंचित रह जाएंगे। उन्होंने तत्काल इस समस्या का समाधान करने की मांग की।

मेडिकल काॅलेज के कोविड वार्ड प्रभारी व मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डाॅ. धीरज राज का कहना है कि उपचार के दौरान मरीजों की मौत के कई कारण रहे। लोगों की परेशानी का शीघ्र समाधान निकाला जाएगा।

Check Also

दुर्घटना में पुलिस जीप चालक की मौत, क्षेत्राधिकारी घायल

  द ब्लाट न्यूज़ । जिले में सुरेर थाना क्षेत्र के यमुना एक्सप्रेस वे पर …