प्रदेश भर में 36,728 ग्राम प्रधानों ने ली शपथ

लखनऊ। नवनिर्वाचित ग्राम प्रधानों में से 36,728 ही शपथ ग्रहण कर सके हैं। ग्राम पंचायतों के गठन की अधिसूचना जारी होने के बाद भी 28 ग्राम प्रधान विभिन्न कारणों से शपथ समारोह में शामिल नहीं हो पाए। शपथ ले चुके प्रधान गुरुवार को ग्राम पंचायत की पहली बैठक आहूत करेंगे, जिसमें समितियों का चयन किया जाएगा।

बुधवार को ग्राम प्रधान व पंचायत सदस्यों द्वारा शपथ ग्रहण करने का अंतिम दिन था। पहली बार प्रधानों को वर्चुअल शपथ दिलाने के लिए ग्राम पंचायत भवनों व सामुदायिक केंद्रों में व्यवस्था की गई थी। अपर मुख्य सचिव पंचायतीराज मनोज कुमार ङ्क्षसह ने बताया कि ग्राम पंचायतों की पहली बैठक एक साथ आयोजित होने के बाद 28 मई को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ नवनिर्वाचित ग्राम प्रधानों से वर्चुअल संवाद करेंगे। कोरोना महामारी से निपटने के लिए प्रधानों का सहयोग लेने के अलावा संक्रमण बचाव का मंत्र भी दिया जाएगा।

जेल में बंद होने के कारण शपथ न ले सके : प्रदेश में 58,189 ग्राम पंंचायतों का चुनाव हुआ, लेकिन 21,461 ग्राम पंचायतों में कोरम पूरा न होने के कारण गठन की अधिसूचना जारी नहीं हो सकी थी। शेष ग्राम प्रधानों को शपथ दिलाने के लिए 25-26 मई को कार्यक्रम आयोजित किए गए थे। इन दो दिनों मेें भी 28 ग्राम प्रधान शपथ न ले सके। सूत्रों के अनुसार दस निर्वाचित ग्राम प्रधान जेल में बंद होने के कारण शपथ लेने से वंचित रहे। इसके अलावा नौ की मृत्यु हो गई, जबकि एक कोरोना संक्रमित होने के कारण शपथ नहीं ले सके।

Check Also

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने स्कूली बच्चों के साथ बनाया आजादी का अमृत महोत्सव

लखनऊ,द ब्लाट। हाथों में राष्ट्रध्वज तिरंगा, मन में राष्ट्र के लिए कुछ कर गुजरने की …