पेट्रोल-डीजल 5 रुपये हुए सस्ता

नई दिल्ली।  मेघालय सरकार ने भी पेट्रोल और डीजल पर वैट में की कमी की है। इससे ईंधनों की खुदरा कीमतें पांच रुपये प्रति लीटर से अधिक कम हो गईं। बता दें देश में पिछले 8 दिनों से पेट्रोल-डीजल की कीमत बढ़ रही है वहीं कुछ दिन पहले असम में दोनों ईंधन के रेट 5 रुपये कम हुए। आज राजस्थान के श्रीगंगानगर में साधारण पेट्रोल अब अपने शतक से महज 13 पैसे दूर है और अगर ऐसे ही यह बढ़ता रहा तो कल 100 रुपये लीटर के पार चला जाएगा। वहीं यहां एक्स्ट्रा प्रीमियम पेट्रोल पहले ही शतक पार कर चुका है और आज यानी मंगलवार को 102.65 रुपये पर डटा हुआ है। वहीं भोपाल में भी इस पेट्रोल की कीमत 100 के पार चली गई है।

आठ दिन में पेट्रोल की कीमतों में 2.34 रुपये प्रति लीटर का इजाफा

लगातार आठ दिनों में, पेट्रोल के लिए कीमतों में 2.34 रुपये प्रति लीटर और डीजल में 2.57 रुपये की बढ़ोतरी हुई है। राजस्थान में पेट्रोल 99.87 रुपये प्रति लीटर है। देश में ईंधन पर सबसे अधिक वैट वसूलने वाले राज्य, राजस्थान में पेट्रोल और डीजल की सबसे अधिक कीमतें हैं। राज्य के श्रीगंगानगर शहर में, पेट्रोल की कीमत बढ़कर 99.87 रुपये और डीजल उछलकर 91.86 रुपये प्रति लीटर हो गया। श्रीगंगानगर में ब्रांडेड पेट्रोल की कीमत 102.65 रुपये प्रति लीटर और इसी तरह के ग्रेड डीजल की कीमत 95.52 रुपये हो गई है। केंद्रीय और राज्य कर, खुदरा बिक्री मूल्य, पेट्रोल के लिए 60 प्रतिशत और डीजल के लिए 54 प्रतिशत हिस्सा बनते हैं। केंद्र सरकार पेट्रोल पर उत्पाद शुल्क पर 32.90 रुपये और डीजल पर 31.80 रुपये प्रति लीटर वसूलती है।

बता दें विधानसभा चुनावों से पहले असम सरकार ने शुक्रवार को पेट्रोल और डीजल की कीमत में  5 रुपये की कमी की और कोरोनोवायरस महामारी के बाद शराब उत्पादों पर लगाए गए 25% के अतिरिक्त टैक्स को वापस लेने का भी फैसला किया। ईंधन की नई कीमतें शुक्रवार आधी रात से प्रभावी हो गई हैं। असम के वित्त मंत्री हेमंत बिस्वा सरमा ने सरकार के इस फैसले की जानकारी विधानसभा में शुक्रवार को दी। उन्होंने बताया,” अब असम में गुजरात के बाद देश में पेट्रोल की सबसे कम दाम होने का रिकॉर्ड होगा। उन्होंने कहा कि डीजल की कीमतें हिमाचल प्रदेश, हरियाणा और उत्तर प्रदेश के बाद सबसे कम होंगी।

Check Also

अपने बेड़े में वाइड-बॉडी विमान शामिल करेगी एयर इंडिया

  द ब्लाट न्यूज़ । अपने नेटवर्क का विस्तार करने की दृष्टि से, एयर इंडिया …