कोरोना संक्रमित आजम खां की तबीयत बिगड़ी, सीतापुर जेल से बेटे के साथ लखनऊ मेदांता अस्पताल शिफ्ट

सीतापुर। समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता व रामपुर के सांसद आजम खां की तबीयत रविवार दोपहर को फिर बिगड़ गई। आजम खां कोरोना वायरस से संक्रमित हैं। पिता के साथ जेल में निरुद्ध बेटा अब्दुल्ला आजम भी कोरोना संक्रमित हैं। डॉक्टरों की टीम ने उनका स्वास्थ्य परीक्षण किया और तत्काल अस्पताल में भर्ती कराने की सलाह दी। इस पर आजम खां को उनके बेटे अब्दुल्ला के साथ लखनऊ मेदांता अस्पताल शिफ्ट कर दिया गया है। शनिवार रात से आजम खां का ऑक्सीजन लेवल 90 से 92 के बीच अप-डाउन हो रहा था। इसलिए जेल प्रशासन परेशान था।

कोरोना पॉजिटिव हुए रामपुर के सांसद सपा नेता आजम खां की तबियत शनिवार दोपहर बिगड़ गई। डॉक्टरों की टीम ने उनका स्वास्थ्य परीक्षण किया और तत्काल भर्ती कराने की सलाह दी। आजम खां पहले अस्पताल में भर्ती होने के लिए राजी नहीं थे। यह खबर प्रशासन तक पहुंची तो एडीएम विनय पाठक, सीएमओ डॉ. मधु गैरोला, एएसपी उत्तरी डॉ. राजीव दीक्षित, एसडीएम सदर अमित भट्ट, सीओ सिटी पीयूष कुमार सिंह समेत कई अधिकारी आजम खां को अस्पताल चलने को मनाने पहुंच गए।

मिली जानकारी के मुताबिक, ये अधिकारी सांसद आजम खां को लखनऊ संजय गांधी पीजीआइ में भर्ती कराने को कह रहे थे, पर आजम खां ने जेल से बाहर अस्पताल में भर्ती होने को मना कर दिया। वैसे अधिकारियों के मुताबिक, आजम खां लखनऊ के मेदांता अस्पताल में भर्ती करा देने का अनुरोध कर रहे थे, जिस पर एडीएम ने फोनकर डीएम को इस बात की जानकारी दी। डीएम विशाल भारद्वाज ने आजम खां व उनके बेटे अब्दुल्ला दोनों को मेदांता अस्पताल में भर्ती कराने की अनुमति दी, जिस पर अधिकारी एंबुलेंस से पिता-पुत्र को लेकर शाम 6.30 बजे के दौरान जेल से लखनऊ रवाना हो गए।

सपा सांसद आजम खां और उनके पुत्र अब्दुल्ला आजम सीतापुर जिला कारागार में 27 फरवरी, 2020 से बंद हैं। इस दौरान वह कई बार पेशी पर रामपुर भी गए। पिछले दो माह से कोरोना संक्रमण का प्रसार तेज होने से उनकी जिला कारागार से ऑनलाइन पेशी हो रही थी। जेल प्रशासन का कहना है कि नियमित अंतराल पर आजम खां व उनके पुत्र के स्वास्थ्य की जांच होती है। 29 अप्रैल को स्वास्थ्य विभाग की टीम ने एंटीजन जांच की थी, जिसमें दोनों पॉजिटिव मिले। फिर इनका और इनके बेटे का सैंपल आरटी-पीसीआर जांच को भेजा गया। एक मई को आई रिपोर्ट में पिता-पुत्र कोरोना संक्रमित मिले है।

इस पर दोनों को अलग-अलग बैरकों में क्वारंटीन करा दिया गया। अफसरों का कहना है कि संक्रमण को देखते हुए पुलिस कर्मियों की ड्यूटी बदला करती है। हो सकता है इन पुलिसकर्मियों के वजह से संक्रमण जेल में पहुंचा हो। कई कैदी भी पॉजिटिव मिले हैं। शनिवार रात से आजम खां का ऑक्सीजन लेवल 90 से 92 के बीच अप-डाउन हो रहा था। इसलिए जेल प्रशासन परेशान था। सीओ सिटी पीयूष कुमार सिंह ने बताया कि आजम खां व उनके बेटे अब्दुल्ला के साथ भारी सुरक्षा बल भी भेजा गया है। इसमें खैराबाद थानाध्यक्ष ओपी राय, पुलिस लाइन से दो इंस्पेक्टर और 10 कांस्टेबल की एक गारद गई है।

Check Also

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने स्कूली बच्चों के साथ बनाया आजादी का अमृत महोत्सव

लखनऊ,द ब्लाट। हाथों में राष्ट्रध्वज तिरंगा, मन में राष्ट्र के लिए कुछ कर गुजरने की …